Kasam Khane Se Kya Hota Hai

नमस्कार दोस्तों बहुत सारे लोगो के सबाल है कि kasam khane se kya hota hai के बारे में बतायो। तो आए ऐ आज आपके सभी सबालों के उत्तर देते है। और आपको सही जानकारी देते है, ता कि आप गलत जगह ना फस जाए।

इस ऑर्टकल में हम आप को कसम खाने से क्या होता है जह जानकरी दिया गए। कि हम को कसम खानी चाहिए जा नहीं झूठी कसम से क्या नक्सान होता है। सच्ची जा झूठी कसम खानी चाहिए जा नहीं। इस ऑर्टकल में हम बात करें गए। तो चलिए बिना किसी दरी से स्टार्ट करते है।

kasam khane se kya hota hai

दोस्तों समाज में एक बड़ा गुनाह बिल्कुल आम हो चुका है इस गुनाह से और गुनाहों के रास्ते भी खुलते हैं झूठ तो सुना ही होगा आपने .झूठ बोलना एक ऐसा गुनाह है जो और गुनाहों का भी सबब बनता है दोस्तों समाज में झूठ बोलना बिल्कुल आम हो चुका है उसके साथ साथ झूठी कसम भी खाना शुरू हो गया.

अपनी झूठी बातों को सच बनवाने के लिए अक्सर लोग कसम का सहारा लेते हैं बल्कि ऐसा करना इस्लाम में बहुत बड़ा गुनाह माना गया है अव्वल तो झूठ बोलना बहुत बड़ा गुनाह उसके साथ-साथ अपने झूठ को सच बनवाने के लिए कसम खाना उससे बड़ा भी गुनाह ।

कसम खाने का अभ्यास हमारे सामाजिक और पारिवारिक संघर्षों के साथ जुड़ा हुआ है। यह अपने माता-पिता, गुरुओं, सामाजिक नेताओं और देवी-देवताओं के सामर्थ्य, आदर्शों और निष्ठा को दिखाने का एक तरीका है। कई धार्मिक और सांस्कृतिक संस्कारों में भी कसम खाने का प्रथम स्थान होता है। इसका मतलब है कि कसम खाने से हम अपनी विश्वास-प्रणाली को स्थायी बनाते हैं और अपने आप को समर्पित करते हैं।

कसम खाने से हमारे जीवन में कई महत्वपूर्ण परिवर्तन होते हैं। पहले तो, यह हमारी आत्मविश्वास को मजबूत करती है। जब हम कसम खाते हैं, तो हम खुद को एक संकल्प और समर्पण के साथ प्रदर्शित करते हैं। यह हमें एक नई ऊर्जा और दृढ़ता प्रदान करती है जो हमें अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए प्रेरित करती है।

दूसरे, कसम खाने से हमारी वचनवद्धता और निष्ठा का परिचय होता है। हमारी कसमें हमारे वचनों की महत्वपूर्णता और उनके पालन को दिखाती हैं। जब हम अपनी कसम पूरी करते हैं, तो हम स्वयं को एक निष्ठावान और विश्वासपूर्ण व्यक्ति के रूप में साबित करते हैं।

तीसरे, कसम खाने से हमारे नैतिकता और यथार्थता का परिचय होता है। कसमें हम अपनी सत्यनिष्ठा और नैतिक मूल्यों की प्रतिज्ञा करते हैं। यह हमारे जीवन में ईमानदारी, ईर्ष्या और न्याय के मूल्यों को बढ़ावा देती है। कसम खाने से हम अपनी प्रवृत्तियों, आचरण और कार्यों की गुणवत्ता को सुनिश्चित करते हैं।

झूठी कसम खाने पर क्या नुकसान होता है ?

दोस्तों आज हम आपको बताएंगे झूठी कसम खाने पर क्या नुकसान होता है . एक ऐसा नुकसान जिससे आप तसव्वर भी नहीं कर सकते हैं झूठी कसम खाते ही यह नुकसान आपका हो जाता है और आप को खबर तक नहीं.

दोस्तों प्यारे नबी सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया कोई कसम खाने वाला अगर कसम खाएं और फैसला उसकी कसम पर होने वाला हो, फिर वह उस कसम में मच्छर के पर के बराबर भी झूठ शामिल कर दे दो तो उसके दिल में एक काला नुक्ता डाल दिया जाता है जो क़यामत तक की ही रहेगा ।

दोस्तों इस हदीस से यह बात समझ में आती है कि झूठ से मुराद यह नहीं है कि बहुत बड़ा झूठ , झूठ से मुराद यह भी है कि आपने जो कसम खाई है उसमें अगर मच्छर के पर के बराबर भी झूठ शामिल है तो बहुत बड़ा गुनाह है और बहुत सख्त मना है .

दोस्तों अगर कभी ऐसा मौका है कि आप की कसम की बुनियाद पर कोई फैसला लिया जाना हो और आप ने कसम खाई अगर उसमें जरा सा भी झूठ रहा तो आपके दिल पर एक काला नुक्ता लग जाएगा जो कयामत के दिन तक रहेगा।

दोस्तों आपके झूठ या झूठी कसम से किसी का जो नुकसान होगा वह तो बात ही अलग है इसके साथ-साथ आपके दिल पर काला नुक्ता लग जाएगा मतलब कि दिल सिया हो सकता है और आप को गलत सही का फर्क करना मुश्किल हो जाएगा .

दोस्तों आज के इस पोस्ट के जरिए हम तो यही अल्लाह से दुआ करते हैं कि हमें और आपको झूठ बोलने से बचाए, झूठी कसम खाने से बचाए, गुनाह से बचाए अल्लाह अपने नेक बंदों में हमें और आपको शामिल कर ले।

अल्लाह हम से ऐसी गवाही कभी ना दिलवाए जिसमें झूठ शामिल हो हमें , ऐसी जगह कभी ना खड़ा करें जहां मैं झूठ जैसा बड़ा गुनाह करना पड़े जहां हमें झूठी कसम खाना पड़े बेशक तू जी से बेहतर रास्ते पर चलाता है सच्चे रास्ते पर चलाता है वही चलता है।

यदि आपको kasam khane se kya hota hai दी गयी जानकारी अच्छी लगी है ,और आपको इससे जरा सी भी help मिली है ,तो आप हमे comment करके बता सकते हैं। साथ ही आप इस जानकारी को अपने friends और relatives के साथ भी जरूर share करना। धन्यवाद

block pramukh power

Leave a Comment