HomeEditior teamMahila Gruh Udyog

Mahila Gruh Udyog

Rate this post

हलो फ्रेंड्स, dailyposthindi पर आप सभी का स्वागत है. आज मैं महिलाओं से संबंधित गृह उद्योग (Mahila Gruh udyog) के बारे में जानकारी दे रही हूं. बहुत सारे ऐसे गृह उद्योग (Gruh udyog) है जिन्हें महिलाएं आसानी से कर सकती है. इन उद्योग को शुरू करने के लिए काफी कम पैसों की जरूरत होगी. इन गृह उद्योग (Gruh udyog) की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इन्हें ग्रामीण महिलाएं (Grameen mahila) भी कर सकती है और शहर की महिलाएं भी.

bodmas rule kya hai full detail

बीडीसी सदस्य की वेतन 

बीडीसी सदस्य का काम

Mahila Gruh udyog

PACKING की नौकरी चाहिए तो आप निचे दिए लिंक से APP को DOWNLOAD करे

दोस्तों लोग लड़कियों को ज्यादा पढ़ाई न कराते हुए उनकी जल्दी शादी करा देते हैं। क्योकि उन्हें लगता है कि लड़कियों को पढ़ाने में पैसा व्यर्थ करने से अच्छा हैं, उन्हें घर पर ही घर के काम सिखायें जायें और फिर उनकी शादी कर दी जायें। जिसके चलते वे या तो अनपढ़ रह जाती हैं या कम पढ़ी लिखी रहती हैं। किन्तु अब ये महिलाओं भी आत्मनिर्भर बन सकती हैं।

अपना खुद का छोटा सा व्यवसाय शुरू कर सकती हैं। जी हां आपने अक्सर यह सुना होगा कि काम कोई भी हो वह छोटा या बड़ा नहीं होता। यह काम करने वाले के ऊपर निर्भर करता हैं कि वह उसे किस तरह से करता हैं और उससे लाभ कमाता है। तो कम पढ़ी लिखी महिलाएं भी अपने लिए कुछ छोटे व्यवसाय चुन सकती हैं जिससे उन्हें लाभ मिले। इसके लिए कुछ विकल्प इस लेख से आपको मिल जायेंगे।Mahila Gruh Udyog

ब्यूटी पार्लर महिला गृह उद्योग

महिलाएं यदि ज्यादा पढ़ी लिखी नहीं हैं तो वे किसी बड़े ब्यूटी पार्लर में जाकर ब्यूटीशियन के कोर्स की ट्रेनिंग लेकर खुद का पार्लर खोल सकती हैं। ट्रेनिंग लेने के लिए एवं उसके बाद खुद का पार्लर खोलने के लिए उन्हें कुछ निवेश करना पड़ सकता हैं लेकिन बाद में इससे काफी अधिक मुनाफा होता रहेगा।

क्योकि महिलाएं ब्यूटी पार्लर जाती ही हैं। यदि उन्हें स्वयं का पार्लर खोलने में निवेश से संबंधित कोई परेशानी आती हैं। तो शुरूआत में वे उसी पार्लर में काम करके पैसा कमा सकती हैं। और जब अच्छे पैसे जुड़ जाएँ तो इसके बाद खुद का व्यवसाय कर सकती हैं। महिलाएं लोगों के घर जाकर भी उन्हें सर्विस प्रदान करके अतिरिक्त पैसे भी कमा सकती हैं।

साबुन बनाने का काम

महिलाएं अपने घर पर साबुन बनाने का व्यवसाय भी कर सकती हैं। अब महिलाएं ये सोच रही होंगी कि साबुन कैसे बना सकती हैं। तो इसकी जनकारी आपको इस लिंक पर क्लिक करके मिल जाएगी।

साबुन विभिन्न तरह के होते हैं नहाने का साबुन, कपड़े धोने का साबुन एवं बर्तन धोने का साबुन आदि और ये सभी साबुन विभिन्न चीजों का इस्तेमाल करके बनाएं जाते हैं जैसे कि नीम, एलोवेरा, गुलाब, चन्दन आदि और भी। आप हर्बल साबुन का निर्माण भी कर सकती हैं। आपको पता हैं साबुन गोबर से भी बनता है. जी हाँ गोबर के साबुन बनाने का व्यवसाय करना कम पढ़ी लिखी महिलाओं के लिए बहुत अच्छा विकल्प है।Mahila Gruh Udyog

सिलाई सेंटर महिला गृह उद्योग

फैशन के इस दौर में हर कोई अपने लिए अपनी मनपसंद कपड़े सिलवाना चाहता है। शहर में बहुत कम ऐसे सिलाई सेंटर होते हैं जहां पर लोगों के मनपसंद कपड़े सिले जाते हैं। यदि आपको सिलाई करना आता है तो आप सिलाई सेंटर बिजनेस कर सकती हैं। इस सिलाई सेंटर में आप अन्य महिलाओं को भी सिलाई करना सिखा सकती है और उनसे पैसे ले सकती हैं। इसी के साथ-साथ आप लोगों के कपड़े सिल कर भी पैसे कमा सकते हैं।

इस तरह आप एक सिलाई सेंटर बिजनेस शुरू कर के हर महीने हजारों रुपए कमा सकते हैं और खुद के पैरों पर खड़ी हो सकती हैं। सिलाई सेंटर बिजनेस शुरू करने के लिए आपके पास ढेर सारी सिलाई मशीन होना चाहिए।

पापड़ बनाने का बिजनेस

पापड़ एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो लगभग हर घर में इस्तेमाल किया जाता है। जब हमारे देश में कोई त्यौहार होता है या फिर कोई रिश्तेदार घर आता है हम उसे पापड़ खिलाते हैं। पापड़ की खपत हर घर में होती है। ऐसे में यह एक अच्छा मौका है अगर आप चाहे तो आप पापड़ बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं।

पापड़ बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको ज्यादा बड़ी मशीनों की आवश्यकता नहीं पड़ेगी और ना ही आपको ज्यादा इन्वेस्टमेंट करने की आवश्यकता पड़ेगी।

आप लगभग ₹20000 इन्वेस्ट कर के पापड़ बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं। यदि आपको अच्छी मार्केट मिल गई तो आप हजारों रुपए प्रतिदिन कमा सकती हैं। पापड़ बनाने के बिजनेस में आपको ज्यादा कर्मचारियों की आवश्यकता नहीं पड़ती है। आप एक या दो साथियों के साथ पापड़ बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं।

आचार बनाने का बिजनेस

अचार बनाने का बिजनेस भी एक अच्छा बिजनेस आईडिया है। आचार बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए किसी भी एजुकेशन क्वालिफिकेशन की आवश्यकता नहीं है। यदि आप कम पढ़े लिखे हैं तो भी आप आचार बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं।

हर घर की किचन में आचार जरूर रहता है। आचार की अलग-अलग किस्में होती हैं। आम का अचार लोगों को सबसे ज्यादा पसंद आता है।

अगर आपको अचार बनाना आता है तो आप अपना अचार बनाने का बिजनेस शुरू कर सकती हैं। लगभग ₹20000 की छोटी इन्वेस्टमेंट के साथ आचार बनाने का बिजनेस शुरू किया जा सकता है।

अचार बनाकर आप इन्हें दुकानों में सप्लाई कर सकती हैं और इसके बदले में ढेर सारे पैसे कमा सकते हैं।Mahila Gruh Udyog

खुद के बिजिनेस

खुद के बिजिनेस में ज्यादा आगे बढ़ने के लिए आप अपने पसंद का भी काम शुरू कर सकती हैं जैसे सिलाई, पेंटिंग, मेहंदी लगाना आदि.

इस व्यवसाय में आपको आनन्द भी आएगा और आमदनी भी होगी.आपको आर्थिक रूप से मजबूत बनाने का यह सबसे अच्छा जरिया हो सकता है.

हर महिला में कोई न कोई गुण जरुर होता है. अगर आप इसे अपनी आमदनी का जरिया बनायेगीं तो इससे आपकी स्थिति काफी मजबूत हो सकती है.

यदि आपको mahila gruh udyog द्वारा दी गयी जानकारी अच्छी लगी है ,और आपको इससे जरा सी भी help मिली है ,तो आप हमे comment करके बता सकते हैं। साथ ही आप इस जानकारी को अपने friends और relatives के साथ भी जरूर share करना।

Admin
Adminhttps://dailyposthindi.com
नमस्कार मैं ,DailyPostHindi (डेली पोस्ट हिन्दी) का Author/ Founder हूँ। मैं make money online, business और Finance से जुडे विषय के बारे में बताता हूँ। हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अच्छी से अच्छी जानकारी मिले। #dailyposthindidailylearning
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

close