D Pharma Full Form in Hindi

बहुत सारे students जब 10 जा +2 के बाद क्या करे। तो बह नए नए कोर्स के बारे में जानते है। तो बह समझना चाहते हैं। की इस कोर्स में क्या है। ऐसे है D Pharma के बारे में लोगो नही पता होता । तो इस आर्टिकल में हम आपको D Pharma kya hai इसके बारे में वताये गए।

D Pharma Full Form in Hindi

D Pharma Full Form in Hindi ? D Pharma का पूरा नाम Diploma in pharmacy (फार्मेसी में डिप्लोमा) है जो पैरामेडिकल से जुड़े काफी पॉपुलर कोर्स है।

D Pharma Kya Hai

D Pharma को Diploma in Pharmacy भी कहते है। यह फार्मेसी विज्ञान का बहुत प्रचलित कोर्स है। D Pharma दवाओं  की मैन्यूफैक्चरिंग, ( medicine factory) मार्केटिंग, (marketing) दवाओं की क्वालिटी, (medicine quality) स्टोरेज और डिस्ट्रीब्यूशन (distribution) का विज्ञान है। आजकल हेल्थ केयर मार्किट में Pharmacy expert की काफी डिमांड है। D Pharma 2 वर्ष का कोर्स  है। इस कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता PCM या PCB बिषय से 12वीं पास है। Pharmacy कोर्स के बाद आप फार्मासिस्ट के तौर पर आसनी से जॉब कर सकते हैं।

D Pharma करने के फायदे

D Pharma को करना चाहते हो तो ये आर्टिकल आपके लिए बहुत ही महतवपूर्ण होने वाला है  | किरपा  इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़े |

1 . D Pharma करने के बाद सीधे आप नौकरी कर सकते हो |

2.केमिस्ट या हॉस्पिटल जैसे स्थानों में डी फार्मा वालों को जॉब मिलने की संभावना बहुत हद तक होती है।

3.डी फार्मा के बाद आप अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकते हैं जिससे कि आप डी फार्मा का पूरा लाभ उठा सकेंगे।

4.अगर आप 12वीं के बाद डी फार्मा का कोर्स करते हैं तो डी फार्मा करने के बाद ही आपको नौकरी मिल जाती है और इसकी संभावना भी दूसरे नौकरी के मुकाबले बहुत ही ज्यादा होती है।

5. डी फार्मा करने के बाद आप अपना खुद का मेडिकल दुकान  (medical store )खोल सकते हैं | जहां कि आप दवाइयों (medicine) को बेच sale कर सकते हैं क्योंकि दवाइयों को बेचने के लिए आपके पास फार्मा का सर्टिफिकेट का होना बेहद जरूरी है इसके बिना आप दवाइयों को बेच नहीं सकते।

6..डी फार्मा करने के बाद आप सिर्फ नौकरी ही नहीं बल्कि अपना खुद का व्यापार भी शुरू कर सकते हैं खुद का व्यापार शुरू करने के लिए आपको बस एक मेडिकल दुकान खोलने की आवश्यकता है जहां कि आप दवाइयों medicine को बेचेंगे।

7.डी फार्मा करने के बाद आप सरकारी निजी किसी भी प्रकार के हॉस्पिटल में आपको जॉब मिल सकती है और आज के समय में डी फार्मा वाले विद्यार्थी की मांग बहुत ज्यादा है और इसमें दूसरे जॉब के मुकाबले कंपटीशन  भी कम है।

8.डी फार्मा करने के बाद आप सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि  ओर देशों में भी नौकरी प्राप्त कर सकते हो | ओर देश में भी d-pharmacy वाले students की बहुत अधिक मांग होती है |डी फार्मा करने के बाद आप जिस भी किसी जगह नौकरी करेंगे वहां आपको अच्छी वेतन salery भी मिलेगी।

9.डी फार्मा करने के बहुत ही फायदे  होते हैं और इसका सबसे महत्वपूर्ण फायदा यह है कि आप जैसे ही डी फार्मा के कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो इसके तुरंत बाद ही आपको नौकरी मिल जाती है और वह भी अच्छी salery के साथ।

10.डी फार्मा के बाद आप अपने आगे की पढ़ाई study को जारी रख कर भविष्य में रिसर्च के क्षेत्र‌ में अपना करियर बना सकते हैं या एक शिक्षक teacherके रूप में किसी कॉलेज या इंस्टिट्यूट  institute में बच्चों को पढ़ा सकते हैं।

D Pharma Course Syllabus

1st Year Syllabus

1 Pharmacology
2 Pharmaceutical Chemistry
3 Pharmacognosy
4 Biochemistry Clinical Pathology
5 Human anatomy physiology
6 Health Education Community Pharmacy

2nd Year Syllabus

1 Pharmacology
2 Pharmaceutical chemistry
3 Pharmacology toxicology
4 Pharmaceutical jurisprudence
5 Drug Store Business Management
6 Hospital Clinical Pharmacy

India में D Pharma का Scope

वर्तमान में डी फार्मा कोर्स के माध्यम से फार्मेसी क्षेत्र में आकर्षक करियर बनाया जा सकता है। बाजार में डी फार्मा स्टूडेंट्स की काफी डिमांड है। इसमें एक या दो नहीं बल्कि कई करियर विकल्प हैं। चिकित्सा के क्षेत्र में आज हर दिन नई-नई दवाएं खोजी जा रही हैं। यही कारण है कि पिछले कुछ वर्षों से फार्मेसी विशेषज्ञ दवा अनुसंधान और दवा व्यवसाय में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि डिप्लोमा इन फार्मेसी के बाद ही आपको आसानी से रोजगार मिल सकता है।

फार्मेसी क्षेत्र में आपको निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में नौकरी के अवसर मिल सकते हैं। एक फार्मासिस्ट के रूप में आपको मेडिकल स्टोर, अस्पताल, क्लीनिक, नर्सिंग होम, दवा निर्माण कंपनियों में काम करने के कई अवसर मिलते हैं। डी फार्मा कोर्स के बाद आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर भी चला सकते हैं। या आप चाहें तो कोई मेडिकल एजेंसी शुरू कर सकते हैं। सरकारी क्षेत्र में डी फार्मा के छात्रों के लिए समय-समय पर नौकरी के विज्ञापन जारी किए जाते हैं। इनमें आवेदन करके आप सरकारी क्षेत्र में काम करने का अवसर प्राप्त कर सकते हैं।

डी फार्मा की फीस कितनी है? | D Pharma ki fees kitni hai

डी फार्मा करने की फीस कुछ हजार रुपए से लाखों रुपए तक हो सकती है। जैसे किसी कॉलेज में डी फार्मा की फीस 5000 प्रति वर्ष (सरकारी कॉलेज) भी हो सकती है एवं किसी अन्य कॉलेज में यह 3-4 लाख (private college) तक की भी हो सकती है।

डी फार्मा कोर्स को करने की कोई एक निर्धारित फीस नहीं है, इसका मतलब है कि फीस अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग होती है। आपके किस राज्य से डी फार्मा का कोर्स कर रहे हैं आपकी फीस इस पर भी डिपेंड करेगी। आप किस कॉलेज से बी फार्मा का कोर्स कर रहे हैं यह इस पर भी निर्भर करता है। सरकारी कॉलेज से कर रहे हैं या प्राइवेट कॉलेज से कर रहे हैं फीस इस पर भी निर्भर करता है।

प्रतिवर्ष लाखों रुपए तक हो सकता है। कुछ कॉलेजों में आपको डी फार्मा में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा देनी होती है जबकि कुछ में मेरिट के आधार पर ही आपका दाखिला हो जाता है।

यदि बात की जाए एक औसत की तो किसी प्राइवेट कॉलेज से डी फार्मा करने पर हर साल का फीस 50,000 से 2/2.5 लाख तक भी जा सकता है। जिससे कि पूरे कोर्स को करने का खर्च 100000 से 500000 तक चला जाता है।

सभी प्राइवेट कॉलेज की फीस भी एक समान नहीं होती है। किसी एक प्राइवेट कॉलेज की फीस 50000 प्रति वर्ष की हो सकती है।

D Pharma करने की फीस कुछ हजार रुपए से लाखों रुपए तक हो सकती है। जैसे किसी कॉलेज में डी फार्मा की फीस 5000 प्रति वर्ष (सरकारी कॉलेज) भी हो सकती है एवं किसी अन्य कॉलेज में यह 3-4 लाख (private college) तक की भी हो सकती है।

डी फार्मा और बी फार्मा में क्या अंतर है । d Pharma aur b Pharma me kya anter hai

D.pharma and B pharma course यदि आप फार्मासिस्ट बनना चाहते है। तो आप इन दोनों कोर्स में से कोई एक course आपको जरूर करना पड़ेगा। ए अच्छा कैरियर बनाने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं यदि आप बायोलॉजी के स्टूडेंट हैं और फार्मासिस्ट में अपना कैरियर बनाना के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए D Pharma का बी फार्मा कोर्स बहुत ही अच्छा रहेगा

d pharma and b pharma kaise kare

D.pharma and कोर्स मेडिकल लाइन कोर्स है। जिसको करने के लिए आपको बायोलॉजी साइंस का ध्यान करना होता है। यदि आप मेडिकल लाइन में जाना चाहते हैं तो आप इन दोनों पुरुषों को सिलेक्ट कर सकते हैं।

तो दोस्तों हमारा ये D Pharma Kya Hai , D Pharma Full Form in Hindi आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट सेक्शन के जाकर जरूर बताऐं।

इसे भी जरूर पड़े।

Ghar baithe packing ka kaam in delhi

Leave a Comment