HomeNewsपंजाब में ऐसा क्या हुआ कि मुर्गे की अदालत में पेशी होने...

पंजाब में ऐसा क्या हुआ कि मुर्गे की अदालत में पेशी होने जा रही है?

Rate this post

किसी भी देश में न्याय के लिए एक व्यवस्था बनाई जाती है. इसे ‘कोर्ट’ कहा जाता है. कोर्ट में जजों की अगुवाई में मामलों की सुनवाई होती है. बोलने वालों की पेशी होती है. जो नहीं बोल सकते उनकी भी पेशी होती है. चाहें वो नर हों या मुर्गे. हम तंज़िया नहीं कह रहे हैं. वास्तव में एक मुर्गे की पेशी होनी है पंजाब के बठिंडा में. वो भी इसलिये, क्योंकि बात मुर्गे के हक की थी, जो उसे भारत के संविधान ने दिया है. 

मुर्गे लड़ा रहे थे, धर लिये गए

दैनिक भास्कर में छपी रिपोर्ट के अनुसार बठिंडा में पड़ने वाले बल्लुआना गांव में हर साल मुर्गों की लड़ाई प्रतियोगिता आयोजित की जाती है. इस साल भी की जा रही थी. पुलिस को इसकी सूचना मिली. पुलिस जब तक मौके पर पहुंचती, तब तक तीन संदिग्धों में से दो फरार हो चुके थे. एक संदिग्ध पुलिस के हत्थे चढ़ गया, जो अब मामले में आरोपी है. इसे बेल मिल गई है. लेकिन फरार लोगों पर भी मुकदमा हुआ है और इनकी तलाश जारी है. आप पूछेंगे कि मुर्गे का क्या हुआ, तो जवाब ये है कि मुर्गा रेस्क्यू कर लिया गया है और अब पुलिस कस्टडी में है.

‘मुर्गे’ की होगी पेशी

रिपोर्ट के मुताबिक मामले की जांच में लगी पुलिस टीम ने बताया है कि वो आरोपियों के साथ प्रतियोगिता में शामिल ‘मुर्गे’ को भी अदालत में पेश करेगी. मामले में तीन आरोपियों की पहचान बल्लुआना निवासी राजविंदर सिंह, जगसीर सिंह और गुरजीत सिंह के रूप में हुई है.

मौके पर पहुंची पुलिस ने 11 ट्रॉफियां बरामद की हैं. ये सभी ट्रॉफियां विजेता (मुर्गे/मालिक) को सम्मानित करने के लिए रखी गई थीं. मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि केस चलने तक मुर्गा पुलिस की कस्टडी में ही रहेगा. अदालती कार्रवाई के दौरान उसे कोर्ट में पेश भी किया जाएगा.

जानकारी हो कि सरकार ने देश में पशु-पक्षियों की ऐसी प्रतियोगिताओं पर प्रतिबंध लगाया है, जिनसे उन्हें नुकसान पहुंचे. ऐसी प्रतियोगिता आयोजित कराने वाले लोगों के खिलाफ पशु क्रूरता का मामला दर्ज किया जाता है. मुर्गे लड़ाते हुए अक्सर उनके पंजों में चाकू बांध दिये जाते हैं, जिससे उन्हें नुकसान पहुंच सकता है. इसीलिए मुर्गे लड़ाने पर वैधानिक कार्रवाई की जाती है.

Admin
Adminhttps://dailyposthindi.com
नमस्कार मैं ,DailyPostHindi (डेली पोस्ट हिन्दी) का Author/ Founder हूँ। मैं make money online, business और Finance से जुडे विषय के बारे में बताता हूँ। हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अच्छी से अच्छी जानकारी मिले। #dailyposthindidailylearning
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

close